समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

शुक्रवार, 12 अप्रैल 2013

न धूर्त बनें, न मूर्ख कहलाएं

कई बार ऐसा होता है कि कुछ लोग उतने अच्छे नहीं होते जितने समझे जाते हैं और कई बार इसके उल्ट भी होता है कोई व्यक्ति विशेष उतना बुरा नहीं होता , जितना वो समझा जाता है । यदि किसी की छवि नकारात्मक है तो जरूरत है सोचने की । कहते हैं धुआँ वहीं उठता है यहाँ आग होती है । जरूर उस व्यक्ति विशेष के कुछ कृत्य ऐसे रहे होंगे जिन्होंने उसे बुरे के रूप में प्रचारित किया होगा । फिर यह धारणा मजबूत होती जाती है और अच्छाइयां बुराई के स्याह पर्दे में आलोप हो जाती हैं । 
               " हमने लोगों से क्या लेना है ", " लोगों का तो काम ही नुक्ताचीनी करना है " - ऐसी धारणाएं , ऐसी जीवनशैली छवि को और बिगाडती है । सामाजिक प्राणी के नाते लोग आपके बारे में क्या सोचते हैं , क्या कहते हैं यह काफी महत्वपूर्ण है । यह ठीक है कि हमें अपने ढंग से जीने का पूर्ण अधिकार है लेकिन इतना आत्ममंथन तो हमें करना ही चाहिए कि अगर हम बुरे के रूप में कुख्यात हैं तो क्यों ? ऐसा सोचने के बाद ही यह प्रश्न आयेगा कि कैसे इस छवि को सुधारा जा सकता है । 
               यह सच है कि अच्छा दिखना उतना महत्वपूर्ण नहीं , जितना कि अच्छा होना और इस नकाबपोश दुनिया में ऐसा भी होता है कि अच्छे दिखने वाले अच्छे होते नहीं , लेकिन आपका अच्छा होना भी तब बेकार हो जाता है जब आप अच्छे दिखते नहीं । अगर आपकी कोई एक बुराई सबको दिखने लग गई तो आपकी सौ अच्छाइयां भी उसमें छुप जाएंगी । 
                         सिर्फ अच्छा दिखना और वास्तव में अच्छा न होना यहाँ धूर्तता है, वहीं अच्छा होना और बुरा दिखना मूर्खता । और अगर हम चाहते हैं कि हम न धूर्त बनें और  न मूर्ख कहलाएं तो हमें अच्छा बनने के साथ अच्छा दिखने का भी प्रयास करना होगा । 


**********

7 टिप्‍पणियां:

  1. हमें अच्छा बनने के साथ अच्छा दिखने का भी प्रयास करना होगा । ......आपकी बातों से सहमत हूँ विर्क जी

    उत्तर देंहटाएं

  2. दिखावा करने की बजाये हमें दिल से अच्छा सोचना चाहिए .
    पधारें बेटियाँ ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर। बधाई!
    Please visit-
    http://voice-brijesh.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected