समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

शनिवार, 4 अगस्त 2012

एक सवाल ?????????


Boys बहुत conscious होते है अपनी sisters के लिए. वो कभी नहीं चाहते की उनकी sister किसी boy से बात करे.... पर जब बात किसी और की sis की आती है तो वो ये उम्मीद क्यों करते है उनकी colleague या classmate उनके लिए open हो ??????

http://anuragisuman.blogspot.in/

9 टिप्‍पणियां:

  1. डबल सोच डबल स्वभाव रखते हैं लोग अपने लिए कुछ दूसरों के लिए कुछ यदि ये फर्क मिट जाए तो एक अनुपम जहान बन जाए ......एक बड़ा सवाल .....बहुत अच्छी प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (05-08-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  3. यही तो दोहरा पन मार रहा है पुरुष प्रधान समाज का .
    ram ram bhai
    रविवार, 5 अगस्त 2012
    आपके श्वसन सम्बन्धी स्वास्थ्य का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक (चिकित्सा व्यवस्था )में
    आपके श्वसन सम्बन्धी स्वास्थ्य का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक (चिकित्सा व्यवस्था )में
    कृपया यहाँ पधारें -http://veerubhai1947.blogspot.de/

    उत्तर देंहटाएं
  4. यही तो घोर विडंबना है मानव चरित्र की!
    हालांकि कक्षाओ में लडको और लड़कियों का आपस में बात करना मुझे नहीं लगता कि कुछ गलत है,पर गलत होने कि संभावनाए हम तलाश रहे होते है!परन्तु जब हमारे किसी लड़की से बात करने कि बात आती है तो सब जायज़ हमें लगता है!
    ये बहुत ही गिरी हुयी सोच मेरे हिसाब से है कि हम अपने चरित्र को तो अच्छा मान लेते है पर अपनी बहन पर विश्वाश नहीं कर पाते!
    ये एक दुखद रूप है सशंकित मानव-चरित्र का!

    कुँवर जी,

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ही विचारणीय बात कही है आपने ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. एक ऐसी समस्‍या जिसे मानव की सोच जो स्‍कुल मे ही नही सभी जगह की है शायद इस पोस्‍ट को पढने के बाद किसी को तो इस बारे मे सुधरने का मौका मिलेगा

    यूनिक तकनीकी ब्लाग

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected