समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

शुक्रवार, 6 जुलाई 2012

बुढापा भी खुशी-खुशी बीत जायेगा


एक बार जो बोल लोगे
 हस के उनके साथ
 बुढापा भी उनका खुशी-खुशी  बीत जायेगा
 ये तो चली आई है परम्परा सदियों से 
जो आया है वो तो समां बीत ही जाएगा...........!

@ संजय भास्कर 

12 टिप्‍पणियां:

  1. wah Sanjay bhai kya khub likha hai.
    photo ko dekhkar apne budhape ki yaad aa rahi hai ..
    ha ha ha .....

    उत्तर देंहटाएं
  2. बेहतरीन अभिव्यक्ति। आप हरियाणा के ब्लाग एक मंच पर देखना चाहते हैं जो सराहनीय है। मेरी वेबसाइट और ब्लाग एक बार जरुर देखें-
    http://phalgutirth.co.in
    http://preranasandesh.blogspot.in
    http://amansandesh.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत अच्छी प्रस्तुति!
    इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (08-07-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सार्थक प्रस्तुति...

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत बड़ी शिक्षा प्रद बात कही है रचना और चित्र के माध्यम से सच में वृद्धों को प्यार के दो बोल के आलावा और क्या चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
  6. आप का ह्र्दय से बहुत बहुत
    धन्यवाद,
    ब्लॉग को पढने और सराह कर उत्साहवर्धन के लिए शुक्रिया.

    उत्तर देंहटाएं
  7. वाह ... की बात है संजय जी ... सच कहा है बिलकुल ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. mere post par aap sabhi kaa swaagat hai. mai bhi Faridabad (haryaanaa) se hun. aap chahe to mujhe smmilit kare.

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected