समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

सोमवार, 14 मई 2012

देख कर भी क्यों सुन नहीं पाया वो मेरी आँखों की धड़कन!...(कुँवर जी)

उम्मीद टूटी नहीं मगर
मलाल रहा...

देख कर भी क्यों सुन नहीं पाया वो मेरी आँखों की धड़कन!

एक पल ही सही
ठहरी थी नजर उसकी,
फिर भी क्यों सुलझा न पाया वो
मेरे माथे की सिकुडन!



कुँवर जी, 

12 टिप्‍पणियां:

  1. sundar prastuti........... pahli abaar blog par aakar achcha laga....

    उत्तर देंहटाएं
  2. उत्तर
    1. आदरणीय डॉ साहब बहुत बहुत आभार...

      हटाएं
  3. वाह बेहद खूबसूरत शब्दों की अभिव्यक्ति .....!

    उत्तर देंहटाएं
  4. Good bikes shops in london
    Excellent Working Dear Friend Nice Information Share all over the world.God Bless You.
    used bicycles london
    used cycles london uk

    उत्तर देंहटाएं
  5. उम्मीद बनी रहे। क्योंकि उम्मीद पर दुनिया टिकी है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही बेहतरीन और प्रशंसनीय प्रस्तुति....


    इंडिया दर्पण
    की ओर से आभार।

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected