समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

रविवार, 29 अप्रैल 2012

कैसे -कैसे लोग


कैसे -कैसे लोग

अगर हो मन में कुछ करने का जज्बा ,
तो कुछ भी कर जाते हैं , लोग |
देखा जाये तो लाखों लोग गरीब हैं यहाँ,
फिर भी विदेशों के बैंक भर जाते हैं, लोग|
जिन्होंने पैदा किया , काबिल बनाया ,
वक़्त आने पर उन्ही से किनारा कर जाते हैं लोग |
कई बार लाखों रूपये देकर भी , नौकरी नहीं मिलती ,
वरना एक सिफारिस से भी तो , तर जाते हैं लोग |
मैं किश्ती लेकर भी नदी पार कर न सका ,
वरना एक तिनके से भी तो दरिया पार कर जाते हैं ,लोग|
सारी जिन्दगी झूठ बोला , फरेब किया ,पैसा कमाया ,
और आखिर एक दिन मर जाते हैं ,लोग |

7 टिप्‍पणियां:

  1. सारी जिन्दगी झूठ बोला , फरेब किया ,पैसा कमाया ,
    और आखिर एक दिन मर जाते हैं ,लोग |

    ...... अच्छी रचना...अंतिम पंक्तियाँ तो बहुत ही अच्छी लगीं.

    उत्तर देंहटाएं
  2. सारी जिन्दगी झूठ बोला , फरेब किया ,पैसा कमाया ,
    और आखिर एक दिन मर जाते हैं ,लोग |

    ..सुन्दर सन्देश और बिभिन्न रंग दिखाती रचना ........ ...अंतिम पंक्तियाँ तो बहुत ही अच्छी लगीं...
    यही सत्य है ..काश लोग समझें ....कहीं एक तिनके से भी दरिया पार कर जाते हैं लोग ..........
    भ्रमर ५

    उत्तर देंहटाएं
  3. सारी जिन्दगी झूठ बोला , फरेब किया ,पैसा कमाया ,
    और आखिर एक दिन मर जाते हैं ,लोग |

    बहुत बढ़िया प्रस्तुति, सुंदर रचना,.....

    MY RECENT POST.....काव्यान्जलि.....:ऐसे रात गुजारी हमने.....

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected