समर्थक

यह ब्लॉग हरियाणा के ब्लॉग लेखकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से निर्मित किया गया है | हरियाणा के सभी ब्लॉग लेखकों से निवेदन है कि वे इस ब्लॉग से न सिर्फ जुड़ें अपितु अपनी पोस्ट से इसे समृद्ध बनाएँ अगर अलग से पोस्ट न लिख पाएँ तो अपने ब्लॉग पर लिखित पोस्ट का लिंक ही लगाकर भागेदारी बनाए रखें |
इस ब्लॉग से लेखक के रूप में जुड़ने के लिए -------- dilbagvirk23@gmail.com -------पर ईमेल करें |

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

गुरुवार, 19 अप्रैल 2012

इस देश में आतंकवादियों क्या है तुम्हारा ...!



इस देश में आतंकवादियों क्या है तुम्हारा 
यहाँ से चले जाओ अब ये देश है हमारा ।
सुला देंगे हम तुम्हे नींद सुकून की 
तुम्हे ख़त्म करना ही है नारा हमारा ।
हमारे दिल की भड़ास को तुम्हारे दिल में बसा देंगे
तुम्हे ही क्या हम तुम्हारी हस्ती को मिटा देंगे ।
बहुत दिनों से सह रहे अत्याचार तुम्हारे 
इस देश की भूमि पर पाँव रखते ही मिटा देंगे ।
तुम्हारे दिए दुखो को हम खुशियों से भुला देंगे 
देश के जख्मो पर अब मलहम लगा देंगे !
मासूमो का खून बहाने वालो तो टोक देंगे
देश दुश्मनों को सरहद पार ही रोक देंगे .........!


9 टिप्‍पणियां:

  1. वाह संजय भाई!

    रगों में जोश का प्रवाह करती प्रेरनादायी रचना...

    कुँवर जी,

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह बड़ी दमदार रचना करी है………………… आपको इस सुंदर लेखने के बधाई। ऐसे ही लिखते रहो बच्चा।

    उत्तर देंहटाएं
  3. Sanjay bhai deshbhakti ka janun dikhati hui rachna bahut hi achhi lagi .
    .........Dhanyawad......

    उत्तर देंहटाएं
  4. माफ़ी चाहूंगी आप के ब्लॉग मे आप की रचनाओ के लिए नहीं अपने लिए सहयोग के लिए आई हूँ | मैं जागरण जगंशन मे लिखती हूँ | वहाँ से किसी ने मेरी रचना चुरा के अपने ब्लॉग मे पोस्ट किया है और वहाँ आप का कमेन्ट भी पढ़ा |मैंने उन महाशय के ब्लॉग मे कमेन्ट तो किया है मगर वो जब चोरी कर सकते है तो कमेन्ट को भी डिलीट कर सकते है |मेरा मकसद सिर्फ उस चोर के चेहरे से नकाब उठाने का है | आप से सहयोग की उम्मीद है | लिंक दे रही हूँ अपना भी और उन चोर महाशय का भी, इन्होने एक नहीं मेरी चार रचनाओ को अपने नाम से अपने ब्लॉग मे पोस्ट किया है
    http://div81.jagranjunction.com/author/div81/page/4/


    http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.in/2011/03/blog-post_557.html

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत अच्छी प्रस्तुति!
    इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  6. आप सभी का ह्र्दय से बहुत बहुत आभार ! इसी तरह समय समय पर हौसला अफज़ाई करते रहें ! धन्यवाद !

    संजय भास्कर
    जय हिंद

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
MyFreeCopyright.com Registered & Protected